सीढ़ियों के नीचे बैठकर भूलकर भी न करें ये कार्य, जान लें वास्तु दोष के ये जरूरी उपाय

0
वास्तु दोष

सभी अपने घर में सुख समृद्धि और ख़ुशी से रहना चाहता है। घर में मौजूद वास्तु दोष हमें खुशियों से कई बार दूर कर देते हैं। वास्तु दोष के चलते परिवार को कई तरह की समस्याओं से गुजरना पड़ सकता है। यही कारण है की घर से वास्तु दोष को दूर करना जरूरी हो जाता है। आज हम आपको बताते हैं की घर में वास्तु दोष को कैसे करें दूर।

 

घर के प्रवेश द्वार के पर्दे में घुंघरू बांधना शुभ होता है। घर के मुख्य द्वार पर घोड़े की नाल बांधें। घर में अखंड रामायण का पाठ जरूर कराएं। अगरबत्ती से वातावरण तो सुगंधित हो ही जाता है साथ ही पॉजिटिव एनर्जी का प्रवाह भी बढ़ता है। यदि घर में कोई व्यक्ति बीमार है तो अगरबत्तियां जलाकर घर के सभी कोनों में जरूर रख दें। अगर घर में कोई सदस्य बीमार है तो घर में मकड़ी जाला न बनाने पाए इसका विशेष ध्यान रखें। धायण रह घर में कोई टूटा कांच न हो।

घर की डायनिंग टेबल गोल आकार की न हो। रोजाना स्नान के बाद मस्तक पर कुमकुम लगाना चाहिए। विद्यार्थी सूर्यदेव को जल अर्पित करें। एकाग्रता और स्मरण शक्ति बढ़ाने के लिए मस्तक, कंठ पर केसर का तिलक जरूर लगाएं। घर की खिड़कियां हमेशा भीतर की तरफ खुलनी चाहिए। जितनी बड़ी खिड़की होती है, उसे उतना ही अच्छा माना जाता है।

ध्यान रखें किसी को घड़ी गिफ्ट में न दें और न ही लें। मनी प्लांट के पौधे को घर के भीतर लगाएं। ध्यान रहे कि ये पौधा सीधे धूप से दूर रहे। अपने पर्स में धार्मिक चीजें जरूर रखें। शयनकक्ष में झाडू, तेल का कनस्तर, अंगीठी आदि भूलकर भी न रखें। सीढ़ियों के नीचे बैठकर कोई जरूरी काम न करें। दुकान, फैक्ट्री, ऑफिस आदि जगहों में साल में एक बार पूजा जरूर कराएं।

, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल,

Leave A Reply

Your email address will not be published.