ऑफिस में इन चीजों को रखने से खुलते हैं तरक्‍की के दरवाजे

0
Vastu Dosh

ऐसा कई बार होता है कोई लाख कोशिश करता है फिर भी सफल नहीं हो पाता। कुछ निजी परेशानियों (Personal Problems) का भी सामना करते रहते हैं। इसका कारण वास्‍तु दोष (Vastu Dosh) भी हो सकता है। ऐसे में कुछ वास्तु टिप्स अपनाकर आप घरों के अलावा अपने ऑफिस और कारोबार पर भी उपयोग कर सकते हैं। वास्तु शास्त्र की माने तो यदि आपके ऑफिस या काम की जगह पर वास्तु दोष हो, तो इसका सीधा असर आपके काम और मस्तिष्क पर तो पड़ता ही है साथ में आपकी सेहत पर भी पड़ सकता है। यदि आप भी आप चाहते हैं कि ऑफिस (Office) में आपको ऐसी किसी समस्या का सामना न करना पड़े तो आप कुछ वास्तु टिप्स अपना सकते हैं।

 

यहां न हो केबिन
वास्तु शास्त्र की मानें ऑफिस में किसी भी कमरे के दरवाजे के ठीक सामने मेज आदि नहीं होनी चाहिए। साथ में ऑफिस का केबिन भी प्रवेश द्वार के पास नहीं होना चाहिए। प्रवेश द्वार के पास किसी ऐसे सहायक का कक्ष होना चाहिए जो आने वाले लोगों को ऑफिस के बारे में सही जानकारी दे सके। आप अपने ऑफिस या घर में गहरे रंगों का प्रयोग न करें। दीवारों पर सफेद, क्रीम या ऐसे ही हल्‍के रंग प्रयोग करना चाहिए।

न लगाएं ऐसी तस्‍वीरें
अपने ऑफिस में किसी भी हिंसक पशु-पक्षी की तस्‍वीर न लगाएं। कई लोग घरों या ऑफिस में इस प्रकार की तस्‍वीरें लगाते हैं। तूफान, रोते हुए बच्‍चे या डूबते सूरज, जहाज की तस्‍वीरें नहीं लगानी चाहिए। इससे ऑफिस में या घर में निराशा बढ़ती है।

बेकार चीजों को न रखें
ऑफिस में साफ सफाई का पूरा ख्‍याल रखें। अपनी दराज, टेबल आदि पर कचरा और बेकार चीजें न रखने दें। बंद और बेकार घड़ी, खराब टेलीफोन और ऐसी ही अन्‍य बेकार की और प्रयोग में न आने वाली चीजें नहीं रखनी चाहिए।

हरा-भरा पौधा रखें
हो सके तो अपनी टेबल या आस पास छोटे और हरे भरे पौधे अवश्य लगाएं। सूखे और खराब होते पौधों को पास रखने से भी बचें। मान्यता है हरे भरे पौधे रखने से सफलता के रस्ते खुल जाते हैं।

, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल,

Leave A Reply

Your email address will not be published.