अगर चाहते हैं घर में बनी रहे खुशहाली तो अपनाएं वास्तुशास्त्र के ये उपाय

0
vastu dosh

कई बार ऐसा होता है कि इंसान लाख कोशिश करता हैं कि उसके घर में सब कुछ ठीक रहे। घर के सदस्य आपस में हंसी ख़ुशी रहे। धन वैभव की भी दिक्कत न आये। सब कुछ अच्छे से चलता रहे लेकिन ऐसा हो नहीं पता। इसकी वजह घर में मौजूद नकारात्मकता हो सकती है। अगर घर में निगेटिव एनर्जी का प्रवाह है तो वह घर के लोगों को उदासीन और निराश बना देती है। हमें कोशिश करनी चाहिए कि घर में हमेशा सकारात्मकता बनी रहे। इसके लिए वस्तुशास्त्र में बताये कुछ उपाय भी करने जरूरी होते हैं। वास्तु शास्त्र के इन वास्तु टिप्स (Vastu Tips) को अपनाकर हम घर में खुशहाली ला सकते हैं और निगेटिव एनर्जी को हमेशा के लिए दूर कर सकते हैं। तो आइये आपको बताते हैं वह उपाय जो घर में खुशहाली ला सकते हैं।

सिंक में गंदे बर्तन छोड़ें

कुछ लोग रात में खाना खाने के बाद बर्तन को सिंक में रखकर बिना धोए ही लोग सो जाते हैं। इसे सबसे बड़ा वास्तु दोष माना जाता है। ऐसा करने से घर में निगेटिव एनर्जी प्रवेश कर जाती है। ऐसे में जरूरी है कि रात को गंदे बर्तन न छोड़े जाएं।

घर में दोनों पहर हो पूजा

घर के भीतर सकारात्मक उर्जा क प्रवाह हमेशा बना रहे। इसके लिए घर के पूजा घर में सुबह शाम भगवान की आराधना होनी चाहिए। ऐसा करने से नकारात्मक प्रभाव काफी हद तक कम हो जाता है।

सुंदरकांड का पाठ

मंगलवार को घर में हनुमान चालीसा या फिर सुंदरकांड का पाठ अवश्य करना चाहिए। इससे निगेटिव एनर्जी दूर होती है। बजरंग बली हर दोष का निवारण करते हैं।

घर में नमक का पोछा लगायें

अगर हो सके तो घर में हर दिन नमक के पानी से पोछा लगायें। रोजाना न हो पाए तो हफ्ते में एक दिन यह उपाय जरुर करें l नमक के पानी का पोछा लगाने से नकारात्मकता को काफी हद तक दूर किया जा सकता है। ऐसा करने से घर की खुशहाली पर कभी किसी की बुरी नजर नहीं लगती।

घर में न हो गंदगी

घर में हमेशा साफ़-सफाई होती रहनी चाहिए। कभी भी घर में गंदगी का अंबार न लगने दें। घर को साफ और स्वच्छ रखना जरूरी है ताकि सकारात्मक उर्जा घर में प्रवेश कर सके।

, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल,

Leave A Reply

Your email address will not be published.