समुद्र के अंदर बसा है खूबसूरत मंदिर, स्कूबा डाइविंग शौकीनों के लिए खास है ये जगह

0

दुनिया की हर एक जगह अपनी अलग खासियत और खूबसूरती लिए हुए है। उन्हीं में से एक है बाली। साफ-सुथरे बीच, कलरफुल कल्चर और चारों ओर फैली हरियाली इस जगह की खूबसूरती में चार चांद लगाने का काम करती है। यहां होटल्स से लेकर रेस्टोरेंट्स, स्पा, एडवेंचर एक्टिविटीज की भरमार है वो भी बजट में। लेकिन इसके अलावा एक और चीज़ है जिसकी वजह से दुनियाभर के टूरिस्ट्स यहां आते हैं और वो है समुद्र के अंदर स्थित मंदिर।समुद्र के अंदर बसा है खूबसूरत मंदिर, स्कूबा डाइविंग शौकीनों के लिए खास है ये जगह

बाली का अनोखा समुद्र के भीतर मंदिर

इंडोनेशिया के आईलैंड बाली घूमने जाएं तो यहां समुद्र के भीतर बने मंदिर की सैर जरूर करें। वैसे तो बाली में बहुत सारे मंदिर है लेकिन ये मंदिर है बिल्कुल अलग। बाली के पेमुतेरान बीच पर समुद्र से 90 फीट नीचे मौजूद स्थित यह मंदिर आज भी कौतूहल का केंद्र बना हुआ है।

इंडोनेशिया में समुद्र के नीचे बना यह मंदिर काफी पुराना है। वैसे तो यह मंदिर भगवान शिव को समर्पित है लेकिन इसमें विष्णु की मूर्ति भी है जो लगभग 5000 हजार साल पुरानी है। लोग स्कूबा डाइविंग और स्विमिंग के जरिए इस मंदिर को देखने आते हैं।

समुद्र के नीचे स्थित यह मंदिर देखने में खंडहर जैसा लगता है। लोगों का मानना है कि यह द्वारिका नगरी हो सकती है, क्योंकि द्वारिका नगरी समुद्री तट के किनारे बसी हुई थी और कुछ समय बाद वह नगरी समुद्र में विलीन हो गई थी।

भगवान विष्णु और शिव के अलावा यहां और भी बहुत सारी मूर्तियां है, जो पुराने समय में होने वाले पूजा-पाठ को दर्शाती हैं। हिंदू देवी-देवताओं के साथ ही यहां भगवान बुद्ध की भी बड़ी-बड़ी मूर्तियां है।

कैसे पहुंचे

दुनिया के अलग-अलग जगहों से बाली के लिए डायरेक्ट फ्लाइट्स अवेलेबल हैं। वैसे बाली की जगह डेनपासर तक की फ्लाइट लेना ज्यादा सुविधाजनक होता है। इसके अलावा सोइकामो हट्टा जकार्ता इंटरनेशनल एयरपोर्ट का भी ऑप्शन है आपके पास। जहां पहुंचकर टैक्सी और दूसरे यातायात माध्यमों से यहां तक आसानी से पहुंचा जा सकता है।

, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल,

Leave A Reply

Your email address will not be published.


Notice: ob_end_flush(): failed to send buffer of zlib output compression (1) in /home/updarpan/public_html/namonamo.in/wp-includes/functions.php on line 5107

Notice: ob_end_flush(): failed to send buffer of zlib output compression (1) in /home/updarpan/public_html/namonamo.in/wp-includes/functions.php on line 5107