विवाहित महिलाओं को करना चाहिये इन नियमो पालन

0

सिंदूर के साथ ही मंगलसूत्र भी महिलाओं के लिए सुहाग की निशानी माना जाता है। परन्तु क्या आप जानते हैं कि गलत तरीके से सिंदूर लगाना पति के लिए दुर्भाग्य भी ला सकता है। आइए जानते हैं महिलाओं के सिंदूर से जुड़ी कुछ ऐसी ही बातें….
– कुछ महिलाएं आधुनिक दिखने के लिए अपने सिंदूर को बालों के बीच छिपा लेती हैं। ऐसी स्त्रियों के पति भी समाज में छिप जाते हैं। उनके पति का घर-परिवार तथा समाज में सम्मान नहीं होता।Photo of विवाहित महिलाओं को करना चाहिये इन नियमो पालन

– एक मान्यता के अनुसार जो पत्नी अपनी मांग के बीच के बजाय किनारे की तरफ सिंदूर लगाती है, उसका पति भी उससे किनारा कर दूर हो जाता है। उन दोनों के बीच सदैव मतभेद बना रहता है और आपसी रिश्ते कभी अच्छे नहीं हो पाते।
– प्रचलित मान्यताओं के अनुसार यदि पत्नी अपनी मांग के बीचों-बीच सिंदूर लगाती है तो उसके पति की कभी अकाल मृत्यु नहीं हो सकती। वह सदैव लंबी उम्र जीता है।

– इन सभी बातों को ध्यान में रखकर ही समाज के बूढ़े-बुजुर्ग कहते हैं कि जिस स्त्री ने अपनी मांग के बीच में सुंदर, स्पष्ट दिखने वाला सिंदूर लगाया है, उसके पति की आयु लंबी होती है और दोनों पूरे जीवन बड़े ही प्रेम के साथ जीते हैं।

, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल,

Leave A Reply

Your email address will not be published.