टेम्पररी टैटू से महिलाएं भी बन सकती हैं कूल और स्टाइलिश

0

हर कोई आजकल स्टाइलिश दिखने के लिए टैटू बनवाने लगा है. इससे हर कोई स्मार्ट और कूल नज़र आता है. ऐसे ही आजकल महिलाएं भी टैटू बनवाने का शौक रखती हैं और चाहती हैं वो कूल दिखाई दें. लेकिन कई बार ऐसा होता है कि टैटू के दर्द लड़कियां परमानेंट नहीं बनवाती बल्कि टेम्पररी से काम चला लेती हैं. स्टाइलिश व फैशनेबल दिखने के लिए टैटू, आज हर युवा वर्ग की पहली पसंद है. मगर इसके ये जरूरी नहीं कि आप केवल पर्मानेंट टैटू की तरफ अपना रूख करें. टेम्परेरी टैटू से भी आप एक फैशनिस्ता क्वीन नज़र आ सकती हैं. जी हाँ, इसके काफी फायदे भी होते हैं जिनके बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं. Photo of टेम्पररी टैटू से महिलाएं भी बन सकती हैं कूल और स्टाइलिश
* जिन लोगों को अपने ऑउटफिट, मेकअप, मूड व अपने फेवरेट स्टार्स के अकॉरडिंग टैटू बनवाने की आदत है, उनके लिए टेम्परेरी टैटू का ऑप्शन बेस्ट है.
* पेंटिग टैटू: यह टैटू एयर ब्रश मशीन की सहायता से बनाएं जाते हैं जो 7 से 10 दिन तक टिके रहते हैं. इसे बनाने के लिए सबसे पहले स्किन पर डिजाइन वाला स्टिकर चिपकाया जाता है. उसके बाद ऊपर से एयरब्रश मशीन के जरिए रंग डाला जाता है.
* स्टिकर टैटू:  इस तरह के टैटू बच्चों में खास लोकप्रिय हैं और बाजार में आसानी से उपलब्ध भी हो जाते हैं. आप बाजार से अपने मनचाहे डिजाइन या फिर कपड़ों के कलर या डिजाइन से मैच करते स्टिकर को मार्केट से खरीद लें.
* टैटू मेंहदी: ये टैटू बनाने के पारंपरिक तरीकों में से एक है. ये टैटू लगभग 10 से 15 दिन तक टिके रहते हैं. आजकल बाजार में कई डिजाइंस के सांचे भी मिलते हैं जिसके जरिए इस टैटू मेंहदी को घर भी बड़ी आसानी से लगाया जा सकता है.

, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल,

Leave A Reply

Your email address will not be published.