कई प्रयासों के बाद भी प्रेग्नेंट नहीं हो पा रही हैं तो खाएं ये चीज…भर जाएगी आपकी सूनी गोद

0

जैसा की आप जानते हैं कि शादी के बाद हर कपल की इच्छा होती है कि वे माता-पिता बने। लेकिन कई बार लोग माता पिता नहीं बन पाते जिसके कारण वे डॉक्टर से सलाह लेकर इलाज कराते हैं। तथा माता पिता बनने के लिए कई तरह के प्रयत्न करते हैं। आज हम इस आर्टिकल में ऐसे लोगों के लिए कुछ उपाय लेकर आए हैं। जिसके नियमित प्रयोग से वे जल्दी ही अपनी सूनी गोद भर सकते हैं। कई प्रयासों के बाद भी प्रेग्नेंट नहीं हो पा रही हैं तो खाएं ये चीज…भर जाएगी आपकी सूनी गोद

1 -गाजर-
आपकी जानकारी के लिए बात दें कि जिस महिला को गर्भ ठहरने में परेशानी हो रही है। वे गाजर के बीजों की धूनी इस प्रकार दे की धुआं महिला की बच्चेदानी तक चला जाए। साथ ही रोजाना गाजर के रस का सेवन करें। ऐसा करने से महिलाओं में गर्भ ठहरने की संमभावना बढ़ जाती है।

2 -अजवाइन-
बता दें कि मासिक धर्म खत्म होने के आठवें दिन से रोज25-25 ग्राम अजवाइन और मिश्री लेकर 125 मिलीलीटर पानी में किसी मिट्टी के बर्तन में भिगो कर रख दें। तथा सनबह जगकर इसे ठंडाई की तरह घोंटकर इसका सेवन करें। तथा इशके साथ ही भोजन में मूंग की दाल और बिना नमक की रोटी सेवन करें। ऐसा करने से निश्चित ही गर्भधारण हो जाता है।

4 -बबूल-
आपकी जानकारी के लिए बता दें कि बबूल के पेड़ से 4- 5 गज की दूरी पर एक फ़ोड़ा सा निकलता है। जिसे बबूल का बांदा कहा जाता है। इसे लेकर इसका चूर्ण बना लें। तथा इस चूर्ण को 3 ग्राम की मात्रा में माहवारी खत्म होने के बाद 3 दिन तक सुबह खाली पेट सेवन करें। ऐसा करने से निश्चित रुप से गर्भधारण हो जाएगा।

, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल,

Leave A Reply

Your email address will not be published.