भूलकर भी इन सब्जियों को कच्चा ना खाएं वरना चंद मिनटों में जा सकती है आपकी जान

0

कई बार आपने देखा होगा कि लोग हेल्‍दी रहने के लिए डाइट पर रॉ वेजिटेबल यानी कच्‍ची सब्जियां खाने से भी गुरेज नहीं करते हैं। सब्जियों में विटामिन, प्रोटीन और अन्‍य पोषक तत्‍व पाये जाते हैं, साथ ही इसमें पोटैशियम और फाइबर भी भरपूर मात्रा में होता है।

इसलिए लोग हेल्‍दी रहने के लिए कच्ची सब्जियों को खाने से ज्यादा फायदा होता है, ये बात सच है कि सब्जियों को उबालने से, पकाने से, फ्राई करने से उनके ज्यादातर पौष्टिक तत्व नष्ट हो जाते हैं। लेकिन हर सब्जी को आप कच्चा नहीं खा सकते हैं। तो आइए आपको बताते हैं कि कौन सी सब्जियों-फलों को कभी पकाकर नहीं खानी चाहिए।

बैंगन : कभी भी बैंगन को भी कच्‍चा खाने की कोशिश न करें। सोलानिन नामक जो घटक आलू में पाया जाता हैं। वो ही बैगन में भी पाया जाता हैं। कच्‍चें बैंगनों में इस घटक की संख्‍या काफी भारी मात्रा में मौजूद होती हैं। बैंगन कच्‍चा खाने से पेट में गैस की दिक्‍कत के साथ ही सोलानिन जैसे विषैले तत्‍व की समस्‍या हो सकती हैं। इस स्थिति से बचने के लिए बैंगन को अच्‍छे से पकाकर खाएं।

आलू : इसे अच्‍छे से उबालें और पकाएं फिर ही इसें खाएं। लेकिन भूल से भी इन सब्जियों को कच्‍चा न खाएं। आलू में मौजूद स्‍ट्रार्च, पचाने में समस्‍या बन सकते हैं। ब्रोकली : ब्रोकली और पतागोभी में बहुत ही कठोर घटक पाएं जाते हैं। अगर इन्‍हें आपने इसे अच्‍छा से पकाकर नहीं खाया तो इन्‍हें डाइजेस्‍ट करने में समस्‍या आ सकती हें। इन्‍हें अच्‍छे से पकाकर ही खाएं।

बीन्‍स : बीन्‍स में फाइबर, कैल्शियम, फॉस्फोरस, सोडियम, फोलेट्स, फोटो न्यूट्रिएंट्स, विटामिन और दूसरे कई पोषक तत्व पाए जाते हैं और अगर इसे उबालकर खाया जाये तो यह सभी पोषक तत्‍व आपको मिल जाते हैं। उबली बीन्‍स डायबिटीज के लिए बहुत अच्‍छी होती है। बीन्‍स को कम से कम 5 मिनट तक उबालें, फिर इसमें स्‍वादानुसार नमक और काली मिर्च मिलाकर खायें।

पालक : ये नाम सुनकर शायद आप थोड़ा सकते में आ सकते हैं। हमनें देखा हैं कच्‍चे पालक को कई बार सलाद में देखा हैं। लेकिन आपको मालूम होना जरुरी हैं कि पालक को कच्‍चा खाना खतरनाक साबित हो सकता है आपके लिए। हालांकि इसे पकाने से इसमें मौजूद आयरन और मैग्‍नीशियम तत्‍वों को बढ़ावा मिलता हैं। जो कि एक स्‍वस्‍थ विकल्‍प हैं।

शकरकंद : शकरकंद में आयरन, फोलेट, कॉपर, मैगनीशियम, विटामिन्‍स आदि होते हैं, जिससे इम्‍यून सिस्‍टम मजबूत बनता है। साथ ही शकरकंद में बहुत अधिक मात्रा में कार्बोहाइड्रेट होता है जो शरीर के लिये बेहद जरुरी है। इसलिए अगर आप इन सब का दोगुना लाभ चाहते हैं तो शकरकंद को उबाल कर खायें।

, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल,

Leave A Reply

Your email address will not be published.