अगर आप भी करते हैं गुदगुदी, तो ये खबर आपको दे सकती हैं बड़ा झटका…

0

आपने अक्सर देखा होगा कि लोग हंसी मजाक करते समय गुदगुदी का सहारा लेते हैं और हंसाने की कोशिश करते हैं. लेकिन इससे आपको कितनी परेशानी हो सकती है इसके बारे में आप नहीं जानते होंगे. गुदगुदी को मस्ती करने के लिए जाना जाता हैं. लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि गुदगुदी शारीरिक प्रताड़ना का भी है एक रूप है और आपको इसके लिए सजा भी मिल सकती हैं. तो चलिए जानते है इसके बारे में. क्या होता है गुदगुदी करने से क्या होता है. अगर आप भी करते हैं गुदगुदी, तो ये खबर आपको दे सकती हैं बड़ा झटका...

आपको बता दें, गुदगुदी प्रताड़ना को टिकलिंग टॉर्चर कहा जाता है. गुदगुदी करने के पीछे लोगों की मंशा किसी के साथ दुर्व्यवहार, हावी होने का प्रयास, अपमान करने की इच्छा या फिर शरारत करना भी होता है. चायनीज टिकल टार्चर प्राचीन चाइना में प्रताड़ित करने का एक तरीका था. खासतौर पर हेन राजतंत्र के राजाओं के दरबार में. चायनीज टिकल टार्चर समाज में खास ओहदा रखने वाले लोगों को दी जाने वाली एक प्रकार की सजा थी, क्योंकि इससे पीड़ित को कष्ट बहुत कम देर तक होता था.

टिकल टार्चर का एक अन्य उदाहरण प्राचीन रोम में मिलता है जिसमें किसी इंसान के पैरों को नमक के पानी में डुबाकर उन्हें एक बकरी के द्वारा साफ कराया जाता था, जो शुरुआत में गुदगुदी का एहसास देता था लेकिन बाद में बहुत दर्दनाक हो जाता था.

, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल,

Leave A Reply

Your email address will not be published.