ये 8 आहार शरीर में जिंक की कमी को करता है दूर, जिंक से हमें कई तरह के…

0
जिंक से भरपूर आहार: जिंक भी आयरन और कैल्शियम की तरह शरीर के कार्य के लिए बहुत आवश्‍यक मिनरल है। जिंक से हमें कई तरह के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ प्राप्‍त हो सकते हैं। यह हमारी रोग-प्रतिरोधक प्रणाली, त्वचा के स्वास्थ्य तथा जख्मों के उपचार में बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इसकी हल्की-सी कमी के चलते प्रतिरोधक क्षमता में कमी, त्वचा में कमजोरी, दृष्टि कम होना तथा अन्य कई समस्याएं पैदा हो जाती हैं। मेडिकल एक्‍सपर्ट के अनुसार, जिंक से डायबिटीज जैसी खतरनाक बीमारी सही हो सकती है। इसलिये यह बहुत जरुरी है कि जिंक की एक सीमित मात्रा आहार दृारा सेवन की जाए। तो फिर देर किस बात की आज ही अपनी दिनचर्या में ऐसे आहार को शामिल करें जिनमें जिंक भरपूर मात्रा में पाया जाता है। आइए ऐसे ही जिंक से भरपूर आहार के बारे में जानते हैं।
मूंगफली

मूंगफली जिंक का सबसे अच्‍छा स्रोत है। साथ ही इसमें आयरन, विटामिन ई, मैग्नीशियम, पोटेशियम, फोलिक एसिड तथा फाइबर भी होता है। इसमें फ्री रेडिकल्स से बचाने वाला ‘रिसवेरेट्राल’ नामक एंटी-आक्सीडेंट भी पाया जाता है। साथ ही मूंगफली में ‘ओमेगा-6′ फैट भी प्रचुर मात्रा में मिलता है, जो स्वस्थ कोशिकाओं तथा अच्छी त्वचा के लिए जिम्मेदार है। साथ ही इनमें फैट तथा कोलेस्ट्रॉल कम मात्रा में होता है।

लहसुन

लहसुन में भी बहुत जिंक पाया जाता है। साथ ही प्रतिदिन लहसुन की एक कली के सेवन से शरीर को विटामिन ए, बी और सी के साथ आयोडीन, आयरन, पोटैशियम, कैल्शियम और मैग्नीशियम जैसे कई पोषक तत्व एक साथ मिल जाते हैं। साथ ही लहुसन में एंटी बैक्‍टीरियल और एंटी-फंगल गुण भी पाये जाते हैं। 

अंडे की जर्दी

हालांकि डॉक्‍टर अंडे की जर्दी खाने के लिए मना करते हैं क्‍योंकि इसमें कोलेस्‍ट्रॉल बहुत अधिक मात्रा में होता है। लेकिन अगर आपको जिंक चाहिए तो आपको अपने आहार में अंडे के पीले भाग को शामिल करना चाहिए। इसके साथ ही पीले भाग में कैल्‍शियम, आयरन, फॉस्‍फोरस, थाइमिन, विटामिन बी6, फोलेट, विटामिन बी12 और पैंथोनिक एसिड भी पाया जाता है।

तिल

तिल में बहुत अधिक मात्रा में जिंक पाया जाता है। साथ ही इसमें कई प्रकार के प्रोटीन, कैल्शियम, बी काम्‍प्‍लेक्‍स और कार्बोहाइट्रेड आदि तत्‍व पाये जाते हैं। तिल में फोलिक एसिड भरपूर मात्रा में होता है। यह मोनो-सैचुरेटेड फैटी एसिड का एक स्रोत है, जो बैड कोलेस्ट्रॉल को कम करता है। और गुड कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाता है।

मशरुम

मशरुम को सुपरफूड के नाम से भी जाना जाता है। इसमें बहुत सारा मिनरल, जिसमें जिंक भी अच्‍छी मात्रा में पाया जाता है। साथ ही मशरुम में उपयोगी मिनरल जैसे, पोटेशियम, फॉस्‍फोरस, कैल्शियम और तमाम उपयोगी प्रोटीन पाये जाते हैं जो हमारे शरीर को हृदय रोग और कैंसर से बचाने में मदद करते हैं।

फलियां

प्रोटीन से भरपूर इस आहार में जिंक की मात्रा भी काफी अधिक होती है। जिंक की कमी को पूरा करने के लिए फलियों का सेवन एक बहुत ही सुरक्षित विचार है। इसलिए अपने आहार में राजमा, दालें तथा सोयाबीन को अपने आहार में शामिल करें। हालांकि राजमा में प्रोटीन और जिंक दोनों की मौजदूगी होती हैं, लेकिन इसे एक सीमित मात्रा में ही खाइये क्‍योंकि इसमें मोटापा बढाने वाले तत्‍व भी होते हैं। 

ऑइस्‍टर

ऑइस्‍टर एक बहुत ही हेल्‍दी सी फूड है क्‍योंकि इसमें समुद्र से पाये जाने वाले कई तरह के मिनरन उपलब्‍ध होते हैं, जिसमें से जिंक आम है। इसके अलावा इसमें विटामिन बी 12, आयरन, कॉपर और सेलेनियम भी प्रचुर मात्रा में होता है। लेकिन ऑइस्‍टर में कोलेस्ट्रॉल ज्‍यादा होने के कारण इसे सही मात्रा में खाया जाना चाहिए। 

अलसी

कत्थई रंग के ये छोटेछोटे बीज पौष्टिकता का भंडार हैं। अलसी में ओमेगा-3 फैटी एसिड के अलावा जिंक भी भरपूर मात्रा में पाया जाता है, जो शरीर को स्वस्थ रखने में विशेष रूप से सहायक है। साथ ही अलसी के बीजों में कैल्शियम, आयरन, विटामिन बी व विटामिन ई होता है। ये बीज एंटी-ऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं। इन का सेवन करने से कब्ज दूर होती है। अस्थमा के रोगियों के लिए इन बीजों का सेवन विशेष उपयोगी है। इनमें एंटी-इंफ्लेमेंटरी व एंटी-कैंसर प्रौपर्टीज मौजूद होती हैं 

, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल,

Leave A Reply

Your email address will not be published.


Notice: ob_end_flush(): failed to send buffer of zlib output compression (1) in /home/updarpan/public_html/namonamo.in/wp-includes/functions.php on line 5107

Notice: ob_end_flush(): failed to send buffer of zlib output compression (1) in /home/updarpan/public_html/namonamo.in/wp-includes/functions.php on line 5107