तो इसलिए खूबसूरत लड़कियों के ब्वॉयफ्रेंड हमेशा होते है बदसूरत, जानें इसके पीछे का ये बड़ा रहस्य…

0

आपने अक्सर लोगो को ये कहते सुना होगा कि प्यार अँधा होता है. शायद इसलिए ये शक्ल नहीं बल्कि दिल देखता है. जी हां दरअसल हम प्यार की बात इसलिए कर रहे है, क्यूकि आज हम इसी से संबंधित आपको कुछ बताने वाले है. आपने अक्सर देखा होगा, कि कई बार खूबसूरत लड़कियां बदसूरत लड़को को ही अपना बॉयफ्रेंड बनाती है. इस दौरान दूसरे लोगो के मन में यही सवाल आता होगा, कि आखिर इसे इतनी खूबसूरत लड़की कैसे मिल गयी.

वैसे आज के जमाने में बहुत से लड़के ऐसा सोचते है, कि लड़की पटाना और घुमाना तो उनके बाएं हाथ का खेल है. पर ऐसी लड़की को पटाना और मनाना बहुत मुश्किल होता है, जिसमे कुछ अलग बात हो और जो सूरत पर नहीं बल्कि सीरत पर गौर करती हो. बरहलाल आज हम आपको ये बताना चाहते है, कि आखिर खूबसूरत लड़कियां हमेशा बदसूरत लड़को को ही अपना बॉयफ्रेंड क्यों बनाती है.

गौरतलब है, कि लड़के और लड़कियां केवल शारीरिक रचना को लेकर ही नहीं, बल्कि सोच विचार के मामले में भी एक दूसरे से अलग होते है. जी हां आपने देखा होगा, कि लड़के अक्सर सुन्दर और आकर्षित लड़कियों का ही चुनाव करते है, जब कि इस मामले में लड़कियों की सोच थोड़ी अलग होती है. वैसे हम आपको बता दे कि लड़कियों को गोरे नहीं बल्कि रफ लड़के ज्यादा भाते है. इसके इलावा लड़कियां अपने लिए एक ऐसा जीवनसाथी चुनती है, जो उन्हें एंटरटेन कर सके. इसका मतलब ये है, कि लड़कियों को मजाक करने वाले और हंसने बोलने वाले लड़के बेहद पसंद होते है. अब ये क्वालिटी ज्यादा करके बदसूरत लड़को में ही पायी जाती है. जिसके चलते सुन्दर लड़कियां ऐसे लड़को से मिलना पसंद करती है.

इसके इलावा लड़कियां लड़को की शक्ल नहीं, बल्कि उनकी पर्सनालिटी देखती है. ऐसे में जिन लड़को की पर्सनालिटी अच्छी होती है, लड़कियां उनसे जल्दी इम्प्रेस हो जाती है. इसके साथ ही लड़कियां लड़को में मेच्योरिटी का गुण भी देखती है. दरअसल लड़कियों को परपक्वता वाले लड़के ज्यादा पसंद होते है. फिर भले ही ये गुण सुन्दर लड़को में हो या बदसूरत लड़को में, इससे उन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता.

, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल,

Leave A Reply

Your email address will not be published.