जानिए, किस वजह से शादीशुदा कपल्स नहीं ले पाते है चरम सुख का मज़ा

0

जैसा की आप जानते हैं कि शादी के बाद कपल्स के बीच संबंध बनना एक आम बात है। तथा माना जाता है कि संबंध बनने से कपल्स एक दूसरे को समझने लगते हैं। तथा दोनों के बीच नजदीकियां बढ़ने लगती है। जिसके चलते दोनों का रिश्ता मजबूत होता है। लेकिन आज के समय में लोगों की दिनचर्या और खान पान में आ रहे परिवर्तन के चलते लोग अपने लिए समय नहीं निकाल पा रहे हैं। तथा अपनी सेहत का ध्यान नहीं रख पाते हैं। जिसके चलते उन्हें कई तरह की शारीरिक कमजोरी तथा बीमारियों का सामना करना पड़ता है। जिसके चलते वे अपने पार्टनरप को यौन सुख नहीं दे पाते। तथा उनके बीच दूरियां बढ़ने लगती हैं।जानिए, किस वजह से शादीशुदा कपल्स नहीं ले पाते है चरम सुख का मज़ा

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि लोग अक्स ऐसी गलतियां कर बैठते हैं जिनके चलते वे अपने पार्टनर को चरम सुख तक नहीं पहुंचा पाते। जैसा का आप जानते हैं कि कुछ लोगों को पॉर्न देखने की लत होती है। तथा वे अपनी पर्सनल लाइफ को भी उससे जोडकर देखने लगते हैं। लेकिन पोर्न फिल्म में दिखने वाले स्टार तथा यौन संबंध बहुत अलग होते है। तथा वे इसकी उम्मीद अपने पार्टनर से भी करने लगते हैं। तथा वे चाहते हैं कि उनकी यौन लाइफ भी ऐसी ही हो। लेकिन असल में ऐसा नहीं हो पाता। आज हम आपको इश आर्टिकल में कुछ ऐसे ही कारणों के बारे में बताने जा रहे हैं। जिनके कारण लोग अपने पार्टनर को चरम सुख नहीं दे पाते।

आपकी जानकारी के लिए बात दें कि सामान्य लोगों की तुलना में एडल्ट फिल्मों में काम करने वाले पुरुषों के निजी अंग सही ढ़ंग से विकसित होते हैं। साथ ही पॉर्न स्टार्स के जेनिटल हेयर न के बराबर होते हैं। जबकि असल जिंदगी में 65 प्रतिशत महिलाओं और 85 प्रतिशत पुरुषों के जेनिटल्स हेयर ज्यादा होते है।

बता दें कि आम तौर पर सामान्य लोगों के संबध बनाने के लिए उत्तेजित होने में कम से कम 10-12 मिनट का समय लगता है। जबकि आम लोगों की तरह पॉर्न स्टार्स इतना समय नहीं लेते। बता दें कि पोर्न फिल्मों में फीमेल पॉर्न स्टार महज पेनिट्रेशन से ही चरम सुथ तक पहुंच जाती हैं। लेकिन असल में महिलाएं 71 प्रतिशत महिलाएं पेनिट्रेशन से ऑर्गैजम तक नहीं पहुंचती।

, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल,

Leave A Reply

Your email address will not be published.