अगर अपने रिश्ते को बनाना हैं सबसे मजबूत, तो आज ही से अपनाएं प्यार के ये फंडे

0

पोथी पढ़ि पढ़ि जग मुआ, पंडित भया न कोय, ढाई आखर प्रेम का, पढ़े सो पंडित होय…कबीर दास जी द्वारा रचित यह दोहा आज के समय में भी बेहद प्रासंगिक है. दुनिया भर के ज्ञान की बातें एक तरफ और प्रेम एक तरफ. प्यार को लेकर हर किसी की अपनी-अपनी राय होती है. अमेरिका की इलिनॉय यूनिवर्सिटी के एक प्रोफ़ेसर ने रिश्ते को समझने के लिए अच्छा खास वक्त लगाया. उन्होंने रिलेशनशिप से जुड़े करीब 1,100 शोध का गहन अध्ययन किया. पूरी छानबीन के बाद उन्होंने इस शोध के निचोड़ के रूप में कुछ ऐसी ट्रिक्स निकालीं जिन्हें अपनाकर प्रेमी जोड़े अपने संबंधों को बेहतर बना सकते हैं. आइए जानते हैं क्या हैं वो…अगर अपने रिश्ते को बनाना हैं सबसे मजबूत, तो आज ही से अपनाएं प्यार के ये फंडे

रिलेशनशिप के विज्ञान को समझने के लिए प्रोफ़ेसर ब्रायन ओगोलस्की ने अपने जीवन के 50 साल खपा दिए. इस दौरान उन्होंने अपना फोकस रिश्ते के सकारात्मक पक्ष पर रखा और नकारात्मक पक्ष को नजरअंदाज कर दिया. इतने लंबे अध्ययन के बाद उन्होंने पाया कि प्रेमी जोड़े रिश्ते में आई कई बातों को दरकिनार कर अपने रिश्ते को वक्त की आंधियों से बचा सकते हैं. इससे उनका रिश्ता पहले से भी ज्यादा मजबूत हो जाता है. रिलेशनशिप के विज्ञान को समझने के लिए प्रोफ़ेसर ब्रायन ओगोलस्की ने अपने जीवन के 50 साल खपा दिए. इस दौरान उन्होंने अपना फोकस रिश्ते के सकारात्मक पक्ष पर रखा और नकारात्मक पक्ष को नजरअंदाज कर दिया. इतने लंबे अध्ययन के बाद उन्होंने पाया कि प्रेमी जोड़े रिश्ते में आई कई बातों को दरकिनार कर अपने रिश्ते को वक्त की आंधियों से बचा सकते हैं. इससे उनका रिश्ता पहले से भी ज्यादा मजबूत हो जाता है.

रिलेशनशिप के विज्ञान को समझने के लिए प्रोफ़ेसर ब्रायन ओगोलस्की ने अपने जीवन के 50 साल खपा दिए. इस दौरान उन्होंने अपना फोकस रिश्ते के सकारात्मक पक्ष पर रखा और नकारात्मक पक्ष को नजरअंदाज कर दिया. इतने लंबे अध्ययन के बाद उन्होंने पाया कि प्रेमी जोड़े रिश्ते में आई कई बातों को दरकिनार कर अपने रिश्ते को वक्त की आंधियों से बचा सकते हैं. इससे उनका रिश्ता पहले से भी ज्यादा मजबूत हो जाता है.

ब्रायन के मुताबिक़, कपल्स कुछ ख़ास तरीकों को अपनाकर अपने रिश्ते में आई तल्खियों को खत्म कर सकते हैं और रिश्ते की डोर को मजबूत कर सकते हैं. आइए जानते हैं इन ट्रिक्स के बारे में. ब्रायन के मुताबिक़, कपल्स कुछ ख़ास तरीकों को अपनाकर अपने रिश्ते में आई तल्खियों को खत्म कर सकते हैं और रिश्ते की डोर को मजबूत कर सकते हैं. आइए जानते हैं इन ट्रिक्स के बारे में.
ब्रायन के मुताबिक़, कपल्स कुछ ख़ास तरीकों को अपनाकर अपने रिश्ते में आई तल्खियों को खत्म कर सकते हैं और रिश्ते की डोर को मजबूत कर सकते हैं. आइए जानते हैं इन ट्रिक्स के बारे में.

रिश्ते में रहने के दौरान किसी और का ख्याल भी अपने मन में न लाना. दूसरे शब्दों में कहें तो किसी दूसरे विकल्प के बारे में विचार न करना, अपने साथी को ही आदर्श साथी मानना और अपने साथी की अच्छी बातों को ध्यान में रखना. इन प्रयासों से आपके रिश्ते में प्यार तो बढ़ेगा ही. साथ ही मजबूती भी आएगी. रिश्ते में रहने के दौरान किसी और का ख्याल भी अपने मन में न लाना. दूसरे शब्दों में कहें तो किसी दूसरे विकल्प के बारे में विचार न करना, अपने साथी को ही आदर्श साथी मानना और अपने साथी की अच्छी बातों को ध्यान में रखना. इन प्रयासों से आपके रिश्ते में प्यार तो बढ़ेगा ही. साथ ही मजबूती भी आएगी.

रिश्ते में रहने के दौरान किसी और का ख्याल भी अपने मन में न लाना. दूसरे शब्दों में कहें तो किसी दूसरे विकल्प के बारे में विचार न करना, अपने साथी को ही आदर्श साथी मानना और अपने साथी की अच्छी बातों को ध्यान में रखना. इन प्रयासों से आपके रिश्ते में प्यार तो बढ़ेगा ही. साथ ही मजबूती भी आएगी.

जब दोनों प्रेमी जोड़े बुरे हालात में भी अपने रिश्ते को बचाने की कोशिश करते हैं तो उनकी रणनीति केवल प्रेमी की ही नहीं होती. इसमें दोनों को साथ मिलकर किसी भी प्रकार के वाद-विवाद से निपटना, साथी की गलतियों को माफ़ कर देना, रिलेशनशिप को प्राथमिकता देना, सहायता करना और तनाव से साथ मिलकर निपटना. जब दोनों प्रेमी जोड़े बुरे हालात में भी अपने रिश्ते को बचाने की कोशिश करते हैं तो उनकी रणनीति केवल प्रेमी की ही नहीं होती. इसमें दोनों को साथ मिलकर किसी भी प्रकार के वाद-विवाद से निपटना, साथी की गलतियों को माफ़ कर देना, रिलेशनशिप को प्राथमिकता देना, सहायता करना और तनाव से साथ मिलकर निपटना.

जब दोनों प्रेमी जोड़े बुरे हालात में भी अपने रिश्ते को बचाने की कोशिश करते हैं तो उनकी रणनीति केवल प्रेमी की ही नहीं होती. इसमें दोनों को साथ मिलकर किसी भी प्रकार के वाद-विवाद से निपटना, साथी की गलतियों को माफ़ कर देना, रिलेशनशिप को प्राथमिकता देना, सहायता करना और तनाव से साथ मिलकर निपटना.

ब्रायन के मुताबिक़, रिश्ते में रहने के दौरान आपको अपने पार्टनर के प्रति आभारी होना चाहिए, उदार होना चाहिए और एकजुट होकर कोई भी काम करना चाहिए. ब्रायन के मुताबिक़, रिश्ते में रहने के दौरान आपको अपने पार्टनर के प्रति आभारी होना चाहिए, उदार होना चाहिए और एकजुट होकर कोई भी काम करना चाहिए.

ब्रायन के मुताबिक़, रिश्ते में रहने के दौरान आपको अपने पार्टनर के प्रति आभारी होना चाहिए, उदार होना चाहिए और एकजुट होकर कोई भी काम करना चाहिए.

, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल,

Leave A Reply

Your email address will not be published.