नहीं जानते होगे आप हेयर स्कैल्प स्क्रबिंग के फायदे, ध्यान से पढ़ ले एक बार…

0

स्कैल्प के ऑयली हो जाने की वजह से कई बार आपके बाल भी ऑयली हो जाते हैं. जिसकी वजह से बालों को धोने के अगले दिन ही बाल गंदे दिखने लगते हैं. इसे अगर साफ़ न किया जाए तो आपके बाल चिपचिपे हो सकते हैं. ऐसा स्कैल्प पर गंदगी एकत्रित हो जाने की वजह से होता है. स्कैल्प को साफ करने के लिए लोग कई केमिकल वाले प्रोडक्ट का इस्तेमाल करते हैं. लेकिन आपको बता दें, इसके लिए आप स्कैल्प स्क्रबिंग भी कर सकते हैं. इसके कई फायदे होते हैं. इनके ही बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं. 

स्कैल्प स्क्रबिंग क्या है:

स्कैल्प स्क्रबिंग को स्कैल्प एक्सफोलिएशन भी कहते हैं. इस प्रक्रिया में स्कैल्प से मृत कोशिकाओं को हटाकर ऑयली स्कैल्प की समस्या को दूर किया जाता है. स्कैल्प स्क्रबिंग मकरने में कोई दिक्कत नहीं होती है. इसे गीले बालों में शैम्पू की मदद से किया जा सकता है. स्कैल्प स्क्रबिंग की मदद से बालों से जुड़ी समस्याओं को भी आसानी से दूर किया जा सकता है.

स्कैल्प स्क्रबिंग के फायदे:

स्कैल्प स्क्रबिंग को घर पर ही हफ्ते में दो बार करके स्कैल्प को स्वस्थ बनाया जा सकता है. इसके लिए फायदे होते हैं.

यह स्कैल्प को एक्सफोलिएट करने के साथ मृत कोशिकाओं को हटाने में मददगार होता है.

 

बालों की गुणवत्ता में सुधार करता है.

स्कैल्प से अतिरिक्त ऑयल हटाया जा सकता है.

स्कैल्प पर जलन, डैंड्रफ की समस्या दूर करने के साथ बाल झड़ने की समस्या दूर करता है.

स्कैल्प पर ब्लड सर्कुलेशन में सुधार करता है. शुष्क स्कैल्प के लिए भी फायदेमंद होता है.

, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल,

Leave A Reply

Your email address will not be published.