हाथ की इस उंगली में पहनेंगे चांदी की अंगूठी तो बरसेगा पैसा ही पैसा

0

चांदी के आभूषण हम काफी पहनते हैं। हम चांदी की अंगूठी, चांदी की पायल, चांदी की चेन आदि पहनते हैं लेकिन चांदी की अंगूठी किस ऊँगली में पहननी चाहिए। इस बारे में सोच लेना चाहिए। कहा जाता है कि चांदी भगवान शिव के नेत्रों से उत्पन्न हुआ था इसलिए जहां चांदी होता है वहां वैभव और संपन्नता की कोई कमी नहीं होती है। चांदी पहनने से कई तरह के लाभ होते हैं। आपको चांदी की अंगूठी किस ऊँगली में पहनना चाहिए और इसे पहनने से किस तरह के फायदे होते हैं।

कनिष्ठा उंगली में इस विधि से पहने चांदी की अंगूठी : चांदी की अंगूठी आप पहनने के लिए लेकर आते हैं तो किसी भी गुरुवार की रात पानी में डालकर पूरी रात के लिए ऐसे ही छोड़ दें। अगले दिन इसे विष्णु के चरणों में रख कर धारण करें।

चांदी की अंगूठी पहनने से होते हैं ये फायदे

1. दाहिने हाथ की कनिष्ठा उंगली में चांदी की अंगूठी पहनने से शुक्र ग्रह और चंद्रमा शुभ परिणाम देते हैं। खूबसूरती बढ़ती है और दाग धब्बे दूर होते हैं।

2. कनिष्ठा उंगली में चांदी की अंगूठी पहनने से मस्तिष्क शांत रहता है। अगर आपको गुस्सा अधिक आता है तो इस ऊँगली में अंगूठी पहनना फायदेमंद होगा।

3. अगर आपको ऑर्थराइटिस, कफ, जोड़ो या हड्डियों से जुड़ी कोई भी समस्या है तो चांदी की अंगूठी आपको काफी हद तक फायदा पहुंचा सकती है।

ये बात ध्यान देने योग्य है कि चांदी से बने बर्तनों में खाने पीने से भी सर्दी-खांसी और साइनस जैसी समस्या दूर होती है। इसलिए ऐसा ना करें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.